Monday, December 1, 2008

वरिष्ठ कवयित्री शान्ति देवी वर्मा का निधन

जबलपुर, २४-११-२००८। वरिष्ठ कवयित्री व लेखिका श्रीमती शान्ति देवी वर्मा का ८६ वर्ष की आयु में आज जबलपुर में निधन हो गया। बापू के नेतृत्व में स्वंतंत्रता सत्याग्रही बनने के लिए ऑनरेरी मजिस्ट्रेट पद से त्यागपत्र देकर विदेशी वस्त्रों की होली जलानेवाले राय बहादुर माता प्रसाद सिन्हा 'रईस' मैनपुरी उत्तर प्रदेश की ज्येष्ठ पुत्री शान्ति देवी का विवाह जबलपुर मध्य प्रदेश के स्वतंत्रता सत्याग्रही स्व. ज्वाला प्रसाद वर्मा के छोटे भाई श्री राजबहादुर वर्मा सेवा निवृत्त जेल अधीक्षक से हुआ था। साहित्यिक संस्था 'अभियान' जबलपुर, रचनाकारों हेतु दिव्य नर्मदा अलंकरण, दिव्य नर्मदा पत्रिका तथा समन्वय प्रकाशन की स्थापना कर नगर की साहित्यिक चेतना को गति देने में उन्होंने महती भूमिका निभायी। अपने पुत्र संजीव वर्मा 'सलिल', पुत्री आशा वर्मा तथा पुत्रवधू डॉ. साधना वर्मा को साहित्यिक रचनाकर्म तथा समाज व् पर्यावरण सुधार के कार्यक्रमों के माध्यम से सतत समर्पित रहने की प्रेरणा उनहोंने दी। उनके निधन के साथ इतिहास का एक अध्याय समाप्त हो गया। उनके अन्तिम संस्कार में सनातन सलिला नर्मदा तट पर ग्वारीघाट में बड़ी संख्या में साहित्यकार, समाज सुधारक तथा सम्बन्धी सम्मिलित हुए।


आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

2 पाठकों का कहना है :

अवनीश एस तिवारी का कहना है कि -

इस नए अभियान को देख कर बहुत खुशी हो रही है |
अनेक अनेक शुभकामनाएं |

मेरा ख्याल है कि स्तम्भ नाम - " हिन्दी साहित्य समाचार " होना चाहिए |

-- अवनीश तिवारी

संजीव सलिल का कहना है कि -

achary sanjiv 'salil'
समाचार संसार ही, है असार में सार.
सुख-दुःख में यह जोड़ता, फैलता है प्यार.

गागर में सागर सदृश, तिनका-तिनका जोड़.
बता रहा किस जिंदगी में आया क्या मोड़.

मैं-तुम को हम. दे बना, समाचार संसार
सेतु बने अनुभूतियाँ, सनें 'सलिल' जलधार
-संजिव्सलिल.ब्लॉग.सीओ.इन
-संजिव्सलिल.ब्लागस्पाट.कॉम

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)