Friday, March 5, 2010

रंगों और रेखाओं का अद्‍भुत मेल



बबिता बिश्वास चित्रकला जगत में विशेषकर वारली पेंटिंग में ख्यातिप्राप्ति नाम है। कला जगत में उनकी उप्लब्धियों की फेहरिस्त लंबी है। उन्हें अनेक सम्मान हासिल हो चुके हैं। कला से संबंधित अनेक वर्कशाप और कैम्प वे आयोजित कर चुकी हैं। उन्होंने न केवल एकल या सांझी चित्र प्रदर्शनियां देश के विभिन्न भागों में आयोजित की हैं बल्कि उनके दो प्रायोजित शो भी हो रहे हैं। उनमें से उनका पहला शो भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद द्वारा पिछले दिनों दिल्ली में आयोजित हुआ, जिसकी कुछ झलकियाँ प्रस्तुत हैं-











आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)

3 पाठकों का कहना है :

seema gupta का कहना है कि -

बबिता बिश्वास जी की इन चित्रकलाओं से परिचय कराने का आभार....बेहद मनमोहक चित्र......
regards

Manju Gupta का कहना है कि -

बहुत ही लाजवाब आदिवासी वारली कला के उत्कृष्ट चित्र .
जग में यश मिले .

Sumita का कहना है कि -

बबीता जी बधाई..बहुत ही खूबसूरत चित्र हैं...आभार हिन्दयुग्म का इस सुन्दर कला को हम तक पहुंचाने के लिये!

आप क्या कहना चाहेंगे? (post your comment)